latest

शनिवार, 8 अगस्त 2020

Donate Organ save lives

Donate Organ save lives
Donate Organ save lives

Donate Organ save lives


Motivational,

Dhadakta hua dil chal pada.."by organ transplant 

धडकता हुआ दिल चल पड़ा किसी और के दिल को धडकने .....!!!


(२०१४- की एक गजब News दिल से दिल तक .....)
    एक पेशेंट की hart transplant सर्जरी होनी थी, सही समय मे किसी और का दिल ना मिले तो, वैसे भी इस दिल की धड़कने रुकनेवाली थी .....! पर कुदरत का करिश्मा देखिए, उसी समय बेंगलूर के किसी अस्पताल मे एक पेशेंट की साँसे रुक गई, उसकी डेथ हो गई| उसने पहले से ही अपना दिल donate कर दिया था| doctor’s की फोन पर आपस मे बाते हुई और धडकता हुआ दिल जल्द से जल्द चैन्नई के उस transplant सर्जरी पेशेंट तक पहुचाने की कोशिशे शुरू हुई ...! जिसके लिए पुलिस की मदत से green coridor बनवाकर कुछ देर के लिए ट्राफिक भी रुकवा दिया गया| आखिर जिसके  सिने की धड़कने रुक गई थी वह फिरसे धड़कने लगा|
       शायरी मे कहते सुना था की, मेरा दिल तुम्हारे लिए धडकता है ...., पर आज के समय मे ऐसे करिश्मे को हम बखूबी महसूस कर सकते है ....(by Organ transplant) इस बात पर तो अवश्य शायरी बनती है ....!!

मे अपनी सांसे रोख लूँगा,
पर तुम्हारी नहीं रुकने दूँगा ...!
  अपने सिनेसे दिल निकालकर,
तुम्हारी धड़कन बन जाऊंगा ...!

अक्सर हम सूनते है की, किसी के कोई बोड़ी पाट्स रिप्लेस करवाने पड़ते हैं ,जैसे किसी का एक्सीडेंट हुआ हो या कीडनी खराब हुई है। तब रिप्लेसमेंट के लिए ओर्गन की आवश्यकता होती है। मृत्यु के बाद ओर्गन डोनेट करने से एक स्वस्थ व्यक्ति 8 लोगों को जीवनदान दे सकता है।
      Organ donate के प्रक्रिया मे अस्पताल में परिवारजनों द्वारा फोर्म भरवाने बाद वह प्रक्रिया होती है। मृत्यु के बाद शरीर के विविध अंग के कार्यरत रहने का समय भिन्न होता है। 
जैसे हार्ट ,लंग, आंख - 4 से 6 घंटे
किडनी - 48 से 72 घंटे
लीवर -12 से 24 घंटे
पेंक्रियाज- 12 से 18 घंटे
आंत- 6 से 12 घंटे
  ईस तरह भिन्न भिन्न समय होता है । उस दौरान रिप्लेसमेंट किया जाता है । 
      मरने के बाद भी जिंदा रहना हो , किसी के जिवन को रोशन करना हो, किसी के भाई, पिता ,पुत्र, मां, बहेन को ओर्गन डोनेट कर बचा सके तो इससे बड़ा दान कोई नहीं होता। 
Organ Donation के लिए हमें तत्पर और प्रेरनारत रहना चाहिए | एक व्यक्ति कम से कम ८ लोगों की जिन्दगी बचा सकते है ...., इसलिए हमें ईस नेक कार्य और जागरूकता को बढ़ावा देना चाहिए|
-    धन्यवाद दोस्तों

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Top Ad

Your Ad Spot